पटना, (रिपोर्टर) :  प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में कानपुर में 14 दिसम्बर (शनिवार) को आयोजित ‘नेशनल गंगा कौंसिल’ की पहली बैठक में बिहार से उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भाग लेंगे। इस बैठक में नमामि गंगे की योजनाओं की विस्तृत समीक्षा के साथ इस कार्यक्रम की समाप्त हो रही अवधि को विस्तारित करने पर विचार होगा। इसमें गंगा किनारे बसे पांच राज्यों उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड व प. बंगाल के मुख्यमंत्री या उनके प्रतिनिधि हिस्सा लेंगें। श्री मोदी ने बताया कि पूरे देश में इस कार्यक्रम के तहत 28,628 करोड़ की स्वीकृति दी गई है जिसमें से बिहार में 4,653.81 करोड़ रुपये मुख्यरूप से एसटीपी और उसके नेटवर्क के निर्माण,पर खर्च किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त गंगा किनारे के गांवों में पौधारोपण, औद्योगिक इकाइयों के उत्सर्जन को गंगा में प्रवाहित होने से रोकने तथा घाटों व शवदाह गृहों के निर्माण आदि पर खर्च किया जा रहा है।


Share To:

Post A Comment: