पटना, (रिपोर्टर) : बिहार में प्रधानमंत्री सुरक्षा व जीवन ज्योति बीमा तथा अटल पेंशन योजना की एलआईसी, नेशनल इंश्योरेंस व बैंकों के प्रतिनिधियों के साथ मुख्य सचिवालय स्थित अपने कार्यालय कक्ष में समीक्षा के बाद उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बीमा योजना के अन्तर्गत दावों के शीघ्र निष्पादन का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि गुजरात में बीमा योजनाओं के अन्तर्गत 86 लाख बीमित हैं जबकि वहां 267 करोड़, राजस्थान मंे 78 लाख जबकि 210 करोड़ और छतीसगढ़ में 65 लाख बीमित हैं जबकि वहां दावों के एवज में 145 करोड़ का भुगतान किया गया है वहीं बिहार में मार्च 2019 तक 74.78 लाख बीमित तथा अटल पेंशन योजना में 17.56 लाख शामिल हैं जबकि यहां 5,278 दावों के विरुद्ध मात्र 66 करोड़ का ही भुगतान किया गया है।

उन्होंने कहा कि हाल में हुई राज्यों के वित्त मंत्रियों की बैठक में बिहार सरकार के हस्तक्षेप के बाद जीविका के तहत जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत बीमित 21.96 लाख स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के प्रीमियम की शेष आधी राशि एलआईसी के जरिए जमा करने का निर्देश केन्द्र सरकार ने दिया है। इस योजना के अन्तर्गत प्रीमियम की आधी राशि लाभार्थी व शेष आधी राशि केन्द्र सरकार की ओर से जमा कराने का प्रावधान है।

बैठक में अधिकारियों ने अटल पेंशन योजना सहित दोनों बीमा योजनाओं में शामिल होने व कवरेज की उम्र सीमा बढ़ाने तथा बीमा कराने के 45 दिन के अंदर बीमा का लाभ नहीं देने की बाध्यता को समाप्त करने का सुझाव दिया। उपमुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया कि इन मुद्दों पर वे केन्द्र सरकार से बात करेंगे। उन्होंने बैंकों के अधिकारियों से दोनों बीमा योजनाओं में अधिक से अधिक खाताधारकों को शामिल करने के लिए अभियान चलाने का निर्देश दिया।

Share To:

Post A Comment: