पटना, (रिपोर्टर) : विश्वकर्मा काष्ट शिल्पी विकास समिति के तत्वावधान में पटना के ‘‘आई.एम.ए. हॉल’’ में देश के पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानीजैल सिंह का पूण्यतिथि समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में ज्ञानीजैल सिंह के तैल्य चित्र पर सभी  लोगों ने माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।  कार्यक्रम की अध्यक्षता  रामचन्द्र शर्मा ने किया। उद्घाटन भारतीय सेवा के सेवानिवृत पदाधिकारी सुरेश शर्मा ने किया। मुख्य अतिथि के रूप में रामभरोश शर्मा, डॉ. सत्यानन्द शर्मा, विनय मिस्त्री, यू.पी. शर्मा, शैलेन्द कौशिक, विशिष्ट अतिथि के रूप में शिवपूजन ठाकुर, उपेन्द्र शर्मा, विष्णु पासवान, अनिल कुमार पासवान ने भाग लिया। अपने उद्घाटन भाषण में  सुरेश शर्मा ने ज्ञानीजैल सिंह की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए उनके आदर्शो को जीवन में उतारने का आह्वान किया।  मुख्य अतिथि पद से बोलते हुए रामभरोश शर्मा, विनय मिस्त्री और डॉ. सत्यानन्द शर्मा ने कहा कि ज्ञानीजैल सिंह ने अपने कठिन मेहनत और लगन से राजनीति की बड़ी उपलब्धि प्राप्त कर देश के राष्ट्रपति बने थे। उनसे सीख लेकर हर आदमी को जीवन का उच्चतम लक्ष्य प्राप्त करना चाहिए।  समारोह को यू.पी. शर्मा, शैलेन्द्र कौशिक, शिवपूजन ठाकुर, विष्णु पासवान, अनिल कुमार पासवान, रामानन्द शर्मा सहित अनेकों वक्ताओं ने संबोधित किया।


Share To:

Post A Comment: