सुल्तानगंज, (रिपोर्टर) :बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शासनकाल में लूट-खसोट चरम सीमा पर पहुंच चुका है। उनका जल जीवन हरियाली अभियान केवल एक जगह पर दिखाया जा रहा है। यह अभियान उनका पदयात्रा के शिवाय और कुछ नहीं साबित हो रहा है और बाकी जगहों पर भी कहीं कुछ नहीं दिख रहा है। ये बातें आज जहानाबाद के पूर्व सांसद डा. अरूण कुमार सुल्तानगंज में अपने संकल्प यात्रा के दौरान पत्रकारों से वार्तालाप में कही।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के शासनकाल में लूट, हत्या, भ्रष्टाचार, बलात्कार, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं बेरोजगारी चरम सीमा पर पहुंच चुका है। मुख्यमंत्री ने शिक्षा व्यवस्था को पंगू बनाकर रख दिया है। राजधानी में छात्राएं एवं महिला अपराधकर्मी से सुरक्षित नहीं है। डा. कुमार ने कहा कि इसी मुद्दे को लेकर हम पटना से लेकर सुल्तानगंज एवं देवघर तक संकल्प यात्रा शुरूआत किया गया है ताकि लोगों को जागरूक किया जा सके। उन्होंने कहा कि नीतीश शासन में केवल बयानबाजी एवं भाषणबाजी हो रहा है कहीं पर भी गरीबों का काम बिना पैसे के नहीं हो रहा है। खनन विभाग से बालू नहीं मिलने के कारण इंदिरा आवास भी नहीं बन पा रहा है। डा. कुमार कि मुख्यमंत्री का शराबबंदी योजना विफल हो गया। शराबबंदी से इनका प्रशासन गरीबों से मोटी कमाई कर रहे है। संकल्प यात्रा में अरूण कुमार की बातों को सुनने के लिए लोगों की भागीदारी बढ़ रही है।

संकल्प यात्रा में बिहार सरकार के पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा विजय कुशवाहा, रंधीर कुशवाहा, हरेराम पासवान, भोला यादव,  समेत सैकड़ों की संख्या में अन्य लोग संकल्प यात्रा में शामिल है।


Share To:

Post A Comment: