पटना, (रिपोर्टर) : आज जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उफऱ् पप्पू यादव के नेतृत्व में सैकड़ो कायकत्र्ता सडक़ पर उतरकर महिलाओं पर अत्याचार एंव नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ प्रर्दशन कर बिहार बंद कराया।
 हथकड़ी और बेडिय़ों से जकड़े पप्पू यादव ने कहा कि ये हथकड़ी सरकार के काले कानून के खिलाफ  हैं भारत की विचारधारा वासुधैव कुटुम्बकम की रही है ।  यह देश कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक है, हमारा संविधान भी सबको धर्मनिरपेक्ष रूप से समानता का अधिकार देता है । एन आर सी  संविधान की मूल प्रस्तावना के खिलाफ  है । किसी धर्म और मजहब को अलग कर हम एक समावेशी राष्ट्र का निर्माण नहीं कर सकते ।
पार्टी प्रवक्ता प्रेमचंद्र सिंह एंव राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू के नेतृत्व में हजारों समर्थकों ने राजेंद्र नगर टर्मिनल बंद करवाते हुए डाकबंगला चौराहा पहुंचे। उन्होंने कहा कि आज का यह बंद ऐतिहासिक रहा है,नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ सभी  जाति, धर्म और समाज के सभी वर्गों के लोगों के द्वारा जनांदोलन  खड़ा किया गया। सरकार इस काले कानून को वापस ले।
राष्ट्रीय प्रधान महासचिव  एजाज अहमद के नेतृत्व में  फुलवारी शरीफ के नया टोला से हजारों की संख्या में आम जनों की भागीदारी के साथ बंद को सफल बनाते हुए पटना के डाकबंगला चौराहा पहुंचकर  कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम दरअसल भाजपा के हिडेन एजेंडा का अंग है इस अधिनियम के माध्यम से समाज में नफरत फैलाने की भाजपा की मंशा है और एनआरसी लाकर दलित ,आदिवासी, पिछड़ों के साथ-साथ खानाबदोश के  अधिकार को छीनने की एक सुनियोजित साजिश है। ।
इस अवसर पर अकबर परवेज, शंकर पटेल, जावेद इकबाल, निरंजन यादव, विशाल कुमार, मनीष कुमार, रेणु जायसवाल ,अमृता देवी, राजीव कुसुम सहित कई नेताओं  ने भाग लिया ।

Share To:

Post A Comment: