पटना, (रिपोर्टर) : राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र चौहान,प्रधान महासचिव नरेश महतो एव राष्ट्रीय प्रवक्ता नीलमणि पटेल ने एक प्रेस बयान जारी कर रालोसपा के मानव कतार मे शामिल छोटे छोटे बच्चों को खड़े करवाये जाने की कड़े शब्दों मे निन्दा करते हुये कहा कि उपेन्द्र कुशवाहा कैसा बिहार बनाना चाहते है। जिन बच्चों के हाथ मे कापी,कलम,किताब होना चाहिए उन छोटे छोटे बच्चों को अपने राजनीतिक फायदे के लिए मानव श्रृंखला मे लाकर अनावश्यक रुप से खड़ा कर दिये। उन बच्चों को यह भी पता नही है कि वे किस लिये लाये गये है। यह खुले आम बाल श्रम कानून का उलंधन है। मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार को ऐसे मामले मे कार्रवाई करना चाहिए।

मोर्चा नेताओं ने आगे कहा कि इस तरह के राजनीतिक परिदृश्य से यह साफ साफ जाहिर होता है कि उपेन्द्र कुशवाहा की राजनीति कितनी हाशिये पर चली गयी है। इनके मानव कतार कार्यक्रम से इनके कार्यकर्ता भी दुरी बना रहे है और आम जनता ने तो इनके राजनैतिक नौटंकी को पहले से ही खारिज कर रखा है। मानव श्रृंखला मे छोटे छोटे बच्चों को शामिल कर आखिरकार श्री कुशवाहा बिहार के आम जनमानस मे क्या संदेश देना चाहते है? राज्य सरकार को ऐसे मामले मे गंभीर होना चाहिए और पुरे मामले की जांच करवानी चाहिए।

Share To:

Post A Comment: