पटना, (रिपोर्टर) : जदयू नेता प्रशांत किशोर पर भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन ने तंज कस कर कहा कि  पैसे लेकर नारा लिखते-लिखते पेड किशोर जी इतने आत्ममुग्ध हो गये हैं कि इन्होने खुद को बहुत बड़ा नेता मान लिया है। दरअसल पीके एक गेम प्लान के तहत अपने कद्दावर नेताओं को चुनौती दे रहे हैं, इनकी मंशा टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेता बनने की है।  इसीलिए यह सीएए पर बेफिजूल बयान देकर खुद को सुखिऱ्यों में बनाए रखने की कोशिश कर रहे हैं। राजद-कांग्रेस और तथाकथित महागठबंधन की दयनीय स्थिति को देखते हुए यह खुद को उनके विकल्प के तौर पर पेश करने की ज़ोर आजमाइश कर रहे हैं।  पर्दे के पीछे से इनकी किसी से कोई गुप्त डील भी हो चुकी है,यही कारण है अपने वरीय नेताओं द्वारा बार-बार चेतावनी देने के बावजूद यह अपनी उट-पटांग बयानबाजी से बाज नहीं आ रहे हैं।   पेड किशोर अलग-अलग पार्टियों में घूम कर उन्होंने अपनी साख तो पहले ही गिरा ली थी और अब जिस थाली में खा रहे हैं उसी में छेद करने से उनकी बची-खुची इज्जत भी नीलाम हो चुकी है।   अधिकांश लोग पहले से ही नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में थे और अब भाजपा द्वारा चलाये गये जनजागरण अभियान के बाद उनका रहा-शहा सुबहा भी दूर हो चुका है।  उनकी भावनाओं की खिलाफत करके खुद को नेता के तौर पर स्थापित करने का जो प्रयास वह कर रहे हैंए उसका खामियाजा उन्हें अवश्य भुगतना होगा।


Share To:

Post A Comment: