पटना, (रिपोर्टर) : राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा कि मुख्यमंत्री सरकार के नाकामियों को छुपाने और अपना चेहरा चमकाने के लिए मानव शृंखला के नाम पर  बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं ।

           उन्होंने कहा कि भीषण ठंढ को देखते हुए कई जिलों  में विधालयों को बन्द रखने अथवा विधालय के समय तालिका में परिवर्तन  करने का आदेश जिला प्रशासन द्वारा जारी किया गया है । वहीं मानव शृंखला की तैयारी के सिलसिले में बच्चों को स्कूल जाना पड़ रहा है ।  मानव शृंखला के तैयारी के नाम पर पीछले एक महिने से विधालयों में पढाई के साथ हीं सारे प्रशासनिक और विकास का काम ठप्प है। पुरा प्रशासन  मानव शृंखला की तैयारी में लगा हुआ है । रविवार के बावजूद मानव शृंखला में लगने के लिए  19 जनवरी को विद्यालयों को खोलने का निर्देश दिया गया है ।      राजद नेता ने कहा कि जितना पैसा और संसाधन इस मानव शृंखला के नाम पर खर्च किया जा रहा है उस पैसा को  शिक्षा,स्वास्थ्य पर खर्च किया जाता तो कुछ उपलब्धि भी होता। इसके पहले भी दो-दो बार मानव शृंखला बनाये गये हैं , उसकी क्या उपलब्धि रही है सरकार को बताना चाहिए ।

          मानव शृंखला जैसे आयोजन स्वैच्छिक भागीदारी से होता है न की प्रशासनिक दबाव से। दावा चाहे जो किया जाये पर सरकार प्रायोजित इस मानव शृंखला के लिए विधालयों, पंचायतों, आंगनवाड़ी केन्द्रों, आशा , ममता,  टोला सेवक , स्वयं सहायता समूह, गैर सरकारी संस्थाओं पर न केवल प्रशासनिक दबाव बनाया गया है बल्कि उनके लिये दूरी और टारगेट भी निर्धारित कर दिया गया है ।


Share To:

Post A Comment: