पटना, (रिपोर्टर) : राजद प्रदेश महासचिव भाई अरूण कुमार, अत्यंत पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव उपेन्द्र चन्द्रवंशी एवं प्रदेश सचिव सरदार रंजीत सिंह ने एक संयुक्त प्रेस बयान में कहा कि जल जीवन हरियाली बाल विवाह समेत कई मुद्दों को लेकर जो 19 जनवरी  को सरकार के द्वारा आयोजित मानव श्रृंखला के प्रति आम जनों का कोई रुझान नहीं है।  इस मानव श्रृंखला के प्रति उदासीन और इसे एक तरीका से चुनावी हथकंडा के अलावा कुछ मानने को तैयार नहीं है क्योंकि इनके जल जीवन हरियाली के प्रोग्राम को 26 जनवरी 20 20 को होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह में इस पर आधारित झांकी को भी केंद्र सरकार ने शामिल होने से मना कर दिया जब इनकी सरकार का अगला इंजन ही इसे नकार चुका है तो ऐसी स्थिति में बिहार की जनता उसे कैसे स्वीकार करें।
नेताओं ने कहा कि सरकार को बढ़ रहे अपराध,  बलात्कार, बेरोजगारी, के खिलाफ मानव श्रृंखला बनाने की जरूरत थी जिसमें  आम जनता का सहयोग मिलता और वल्र्ड रिकॉर्ड बनता परंतु सरकार ऐसा ना कर करके पूर्व में जिस मुद्दे को लेकर मानव श्रृंखला बनाई गई थी उसमें जल जीवन हरियाली जोडक़र पुन: उसी मुद्दे को लेकर मानव श्रृंखला बनाने का निर्णय लिया है।  जनता इसे नकारने का काम करेगी।

Share To:

Post A Comment: