रांची, (रिपोर्टर) : झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन अपना कार्यभार संभालने के बाद ट्वीटर पर अधिक सक्रिय हो गये हैं। टवीटर  पर जितने भी शिकायतें मिल रही है उस पर त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दे रहे हैं। पिछले दिन चाइबासा सदर अस्पताल में एक बच्ची को खाने के साथ सब्जी दान नहीं मिलने और केवल भात परोसे जाने का मामला प्रकाश में आया तो मामले को गंभीरता से लेते हुए अस्पताल के सभी कर्मचारियों को निलंबित कर दिया। चाइबासा के उपायुक्त को ट्वीटर पर कहा गया कि इस बच्ची को स्वास्थ्य, शिक्षा और समुचित पोषण की व्यवस्था करे। मुख्यमंत्री श्री सोरेन ने अपनी सरकार को पारदर्शी बनाये जाने हेतु ट्वीटर को ही अपना हथियार बना लिये हैं। उन्होंने पिछले दिन कोडरमा में जन वितरण प्रणाली को लेकर भी ट्वीटर पर लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ देने की बात कही।
लातेहार जिला के बरवाडीह के एक शिकायत ट्वीटर के माध्यम से मुख्यमंत्री तक पहुंचा जिसमें वृद्धावस्था पेंशन बहुत दिनों से नहीं मिलने की बात कही गयी थी जिसमें लातेहार के उपायुक्त को कहा गया कि बरवाडीह प्रखंड के प्रेमा देवी, पनपतिया देवी समेत दर्जनों महिलाओं को वृद्धा पेंशन दी जाये। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ट्वीट के जरिये लोगों को लाभ नहीं पहुंचाने और शिकायत मिलने पर अफसरों को दंडित किया जा रहा है।

Share To:

Post A Comment: