पटना, (रिपोर्टर) : राजद के प्रदेश महासचिव भाई अरूण कुमारए खुर्शीद आलम सिद्दिकी एवं अत्यंत पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव उपेन्द्र चन्द्रवंशी ने एक संयुक्त प्रेस बयान जारी कर नये साल में रेलवे के द्वारा चार पैसे प्रति किलोमीटर एवं गैस सिलेंडर के मूल्यों में की गई वृद्धि की आलोचना करते हुए कहा कि यह सरकार जनता के प्रति असंवेदनशील है। नये साल में सरकार अपने आम जनता को तरह-तरह के तोहफे का ऐलान करती है परन्तु केन्द्र की भाजपा सरकार आम जनता पर नये साल में बोझ लादने का काम कर रही है। मूल्य वृद्धि उनकी गरीब विरोधी मानसिकता को दर्शाता है क्योंकि रेलवे में अधिकांश गरीब एवं मध्यम वर्गीय लोग ही सफर करते हैं। एक ओर रेलवे को सरकार निजीकरण कर रही है और प्राइवेट ट्रेनें चला रही है तो दूसरी ओर किराया बढ़ाया जा रहा है। रेलवे में सुविधाओं की कमी है एवं सुरक्षा की कमी है। सरकार के द्वारा सुरक्षा एवं सुविधाएं की बढ़ोतरी होनी चाहिए थी परन्तु रेलवे ने ऐसा न करके किराया बढ़ाने का फैसला किया। पूर्व रेल मंत्री  लालू प्रसाद जी ने रेलवे को बिना किराये बढ़ाये हुए मुनाफा में ले जाकर ऐतिहासिक काम किये थे। परन्तु जबसे लालू जी ने रेल मंत्रालय को छोड़ा तबसे रेलवे में ठीक ढंग से कार्य नहीं हो रहा है, रेलवे घाटा में जा रहा है, समय पर ट्रेनें नहीं चल रही है यह बड़ा हीं चिन्ता का विषय है। वहीं दूसरी ओर प्रत्याषित रूप से सरकार ने घरेलू गैस के कीमतों में 22 रूपया 50 पैसा एवं कॉमर्शियल सिलेंडरों 30 रूपये प्रति सिलेंडर बढ़ाकर मध्यम वर्गीय परिवार का नये साल में कमर तोडऩे का काम कर रही है।


Share To:

Post A Comment: