पटना, (रिपोर्टर) : पिछले दिन प्रशांत किशोर ने सही कहा था कि िबहार में शराबबंदी, शिक्षा, बेरोजगारों का पलायन, हत्यालूट चरम सीमा पर पहंच गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लाख कह लें और अपना पीठ खुद थपथपा लें, लेकिन बिहार में शराबबंदी का खुल्लम-खुल्ला बिक्री हो रहा है। बिहार की भलाई के बारे में सोंचेगा उसके लिए मैं हमेशा तैयार रहूॅगा। ये बाते आज बोरिंग रोड में जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने पत्रकारों से वार्तालाप में कहा।
श्री यादव ने कहा कि हमने बिहार के सभी प्रखंडों का दौरा किया शिक्षा, स्वास्थ्य, थाना में घुसखोरी, अत्याचार चरम सीमा पर है। उन्होंने तेजस्वी यादव पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जब मैं 1991 में पहला विधायक बना तब तेजस्वी यादव का जन्म हुआ था चुनावी मौसम है सभी अपने आपको मुख्यमंत्री बनने का दावा कर रहे हैं। उन्होंने कन्हैया कुमार का समर्थन करते हुए कहा कि वे जेएनयू का छात्र नेता है और वह बहुत अच्छे हैं उनका समर्थन करता हॅू। उन्होंने कहा कि एससी/एसटी आरक्षण के प्रोमोशन को लेकर भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर ने पूरे देश में बंद बुलाया है उसका भी मैं समर्थन करता हॅू।
उन्होंने शरद यादव पर कहा कि एक सीट राज्यसभा का खाली हो रहा है इसलिए वे लालू प्रसाद के पीछे भाग-दौड़ लगा रहे हैं कि कहीं हमें अनुकम्पा पर सीट मिल जाये। भाजपा और जदयू ने बिहार को बर्बाद कर दिया, आने वाले दिनों में विधानसभा से दोनों दलों को बाहर का रास्ता दिखाया जायेगा। उन्होंने कहा कि मैं तेजस्वी यादव को नेता नहीं मानता हॅू और ने ही बिहार के आमजन। इस अवसर पर प्रेमचन्द सिंह, राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा, एजाज अहमद, राजेश पप्पू समेत अन्य उपस्थित थे

Share To:

Post A Comment: