पटना, (रिपोर्टर) :  राज्य के नियोजित शिक्षकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल सरकार की श्रम विरोधी नीतियों का परिणाम है,उक्त बातें इंटक के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष- सह- प्रदेश अध्यक्ष  चन्द्र प्रकाश सिंह ने राज्य में जारी शिक्षकों की हड़ताल पर सरकार के अडिय़ल रवैये एवं दंडात्मक कारवाई जैसे निर्णय को देखते हुए कही।
        श्री सिंह ने कहा कि राज्य में शिक्षकों के प्रति सरकार की संवेदनहीनता अत्यंत चिंता की बात है, शिक्षक हमारे सामाजिक व्यवस्था के महत्वपूर्ण अंग है तथा उनके अमूल्य योगदान की अनदेखी बहुत ही गंभीर बात है, शिक्षकों के आदर की बात तो दूर, आज उन्हें अपने कार्यों के बदले उचित वेतन भी मिलना दूभर हो गया है और अगर ऐसी स्थिति बनी रही तो इसके दूरगामी दुष्परिणामों से इनकार भी नहीं किया जा सकता है।  इंटक एवं इससे सम्बद्ध सारे यूनियन शिक्षकों की इस लड़ाई में उनके साथ है और जरुरत पडऩे पर हम उन्हें हर प्रकार की मदद देने को भी तैयार है।

Share To:

Post A Comment: