पटना, (रिपोर्टर) : बिहार विधान परिषद के पोर्टिको में पत्रकारों से वार्तालाप करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा कि राजद का महत्वपूर्ण मांग राज्य में एनआरसी एवं सीएए कानून लागू नहीं करने एवं जातिय आधारित जनगणना 2021 में कराने की मांग की थी। जिसका राजद ने सडक़ से सदन तक बातें जोरदार ढंग से उठायी थी। जिसे राज्य के एनडीए सरकार ने विपक्ष की मांग को मानकर राज्य ने एनआरसी, सीएए लागू नहीं होने एवं 2010 के प्रोफार्मा पर एनपीआर कराने तथा जातिय आधारित जनगणना सदन से सर्वसम्मति से पारित कर दिया है। यह राजद गठबंधन की बहुत बड़ी जीत है। राजद का देश में एनआरसी, सीएए लागू नहीं होने एवं पुराने प्रोफार्मा से एनपीआर नहीं कराये जाने का सदन में सर्वसम्मति से पास होने से राजद का कद बढ़ गया है। वहीं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने जातिय आधारित जनगणना कराने की ल म्बी लड़ाई लड़ी। जिसे विधानमंडल ने सर्वसम्मति से पास कर दी गयी। इससे किसकी कितनी जनसंख्या हैइससे पता चलेगा। इसके लिए मुख्यमंत्रीको बधाई।

Share To:

Post A Comment: