पटना, (रिपोर्टर) : बिहार विधानसभा में सदानंद सिंह के अल्पसूचित प्रश्न के उतर में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा कि आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत बिहार स्वास्थ्य सुरक्षा समिति को राज्य में सूचीबद्ध होने के लिए अब तक 733 निजी अस्पतालों से आवेदन प्राप्त हुआ है। उक्त आवेदनों में से अब तक 230 निजी अस्पतालों, नियमानुसार सूचीबद्ध किये गये हैं। कुल 269 आवेदन अस्वीकृत किये गये हैं एवं 207 आवेदन प्रक्रियाधीन है जिसमें से 190 आवेदन डिस्ट्रीक इम्पैनेलमेंट कमिटी के स्तर पर लंबित है। इन आवेदनों के शीघ्र निष्पादन हेतु संबंधित जिलों को निर्देश दिये गये हैं। जिला से प्राप्त प्रतिवेदन पर निर्णय लेने हेतु स्टेट इम्पैनेलमेंट कमिटी की बैठक प्रत्येक मंगलवार 4.00 बजे अपराहन में निर्धारित है।
राजद के शिवचन्द्र राम के अल्पसूचित प्रश्न के उतर में स्वास्थ्य मंत्री श्री पांडे ने कहा कि राज्य में चिकित्सा पदाधिकारी के कुल स्वीकृत बल 10609 के विरूद्ध कार्यरत बल 4172 है तथा रिक्त पद की स ंख्या 6437 है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा रिक्त कुल 6437 चिकित्सकों अर्थात 2425 विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं 4012 सामान्य चिकित्सकों की नियुक्ति हेतु अधियाचना बिहार तकनीकी सेवा आयोग को भेजी जा चुकी है। आयोग द्वारा चिकित्सा पदाधिकारियों की नियुक्ति हेतु कॉन्सेलिंग की कार्रवाई की जा रही है। आयोग से चिकित्सा पदाधिकारियों की नियुक्ति हेतु अनुशंसा प्राप्त होने के उपरांत आवश्यकता एवं उपलब्धता के अनुसार चिकित्सा पदाधिकारियों की पदस्थापना की जा सकेगी।
श्री पांडे ने कहा कि राज्य में स्टाफ नर्स ग्रेड-ए के कुल स्वीकृत बल 14198 के विरूद्ध कार्यरत बल 5068 है तथा रिक्त पदों की संख्या 9130 है। इन पदों पर नियुक्ति हेतु प्रेषित अधियाचना के आलो में बिहार तकनीकी सेवा आयोग द्वारा अभ्यार्थियों की काउंसेलिंग की जा रही है। राज्य में एएनएम के कुल स्वीकृत बल 27505 के विरूद्ध कार्यरत बल 17934 है। शेष रिक्त पदों की अधियाचना भेजने हेतु क्षेत्रीय कार्यालयों से रोस्टर क्लियरेंस की कार्रवाई कर कोटिवार रिक्ति की मांग 7 फरवरी, 20 एवं 24 फरवरी, 2020 द्वारा की गयी है। बिहार तकनीकी सेवा आयोग द्वारा नियुक्ति हेतु अनुशंसा भेजने के उपरांत उपलब्धता एवं आवश्यकता के अनुसार चिकित्सा पदाधिकारी ग्रेड- ए नर्स एवं एएनएम की पदस्थापना की जा सकेगी।
निरंजन कुमार मेहता के तारांकित प्रश्न के उतर में पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि ने कहा कि मधेपुरा जिलान्तर्गत बाबा मेंही दास की जन्म स्थली को पर्यटकीय दृष्टिकोण से विकसित किये जाने के बिन्दु पर निर्णय मधेपुरा जिलान्तर्गत अन्य पर्यटकीय स्थलों को विकसित किये जाने की प्राथमिकता एवं राशि की उपलब्धता के आधार पर किया जायेगा। जनार्दन मांझी के तारांकित प्रश्न के उतर में पर्यटन मंत्री ने कहा कि बांका जिलान्तर्गत जेठौर नाथ मंदिर, अमरपुर में पर्यटकीय सुविधाओं का विकास एवं सौन्दर्यीकरण हेतु पर्यटन विभााग द्वारा वर्ष 2014-15 में 10207117 रुपये स्वीकृत की गयी है। इस योजना के अन्तर्र्गत यात्री निवास निर्माण, चहारदीवारी, गेट एवं सोलर  लाईट निर्माण का प्रावधान है। बिहार राज्य पर्यटन वि कास निगम से 17 जवरी, 2020 से प्राप्त प्रतिवेदन के अनुसार निर्माण का कार्य प्रगति पर है। राज्य के एज्या यादव के तारांकित प्रश्न के उतर में कृष्ण कुमार ऋषि ने कहा कि पटोरी प्रखंड अन्तर्गत ग्राम शिउरा स्थित अमर सिंह स्थान पर मेला चैत्र नवरात्रि में लगता है। दूसरी बार सावन माह के शुल्क पक्ष के पंचमी से पूर्णिमा तक मेला लगता है। मेले के स्वरूप एवं मूलभूत सुविधाओं की आवश्यकता के बिन्दु पर जिला पदाधिकारी से प्रतिवेदन प्राप्त कर आवश्यक कार्रवाई की जायेगी।

Share To:

Post A Comment: